Thursday, April 19, 2018
Home > Slider > 6 लाख रूपये तो देना ही होगा, साथ ही मानसिक ह्रासमेंट के लिए भी दो, केबी बिल्डर्स के ख़िलाफ़ फ़ोरम का आदेश

6 लाख रूपये तो देना ही होगा, साथ ही मानसिक ह्रासमेंट के लिए भी दो, केबी बिल्डर्स के ख़िलाफ़ फ़ोरम का आदेश

 

रायगढ़ मुनादी।

 

 

 

आप 6 लाख रूपये सामने वाले को दो साथ ही इस दौरान हुए मानसिक ह्रासमेंट की भी भरपाई करनी होगी। मानसिक रूप से ह्रासमेंट हुआ है इसलिए इसके लिए 50 हजार रूपये भी दो। 

उपभोक्ता फोरम की बेंच ने बैकुण्ठपुर निवासी श्रीमती पूनम गुप्ता के द्वारा बिल्डर केबी बिल्डर्स एण्ड डवलेपर्स के खिलाफ दायर परिवाद पर फैसला सुनाते हुए कहा कि समय पर मकान बनाकर नहीं दिया है। इससे परिवादी पिछले एक साल से न सिर्फ मानसिक रूप से परेशान रहा बल्कि उसे उसके पैसे डुब जाने का भी डर सताता रहा। उपभोक्ता फोरम की बेंच के अध्यक्ष एमडी जगदल्ला, सदस्य शिशिर वर्मा व श्रीमती विदुला तामस्कर की बेंच ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि बिल्डर्स द्वारा तय समय में मकान बनाकर नहीं दिया है यह व्यवसायिक दुराचरण की श्रेणी में आता है। परिवादी श्रीमती पूनम गुप्ता द्वारा फरवरी 2016 में अग्रिम राशि 6 लाख रूपये जमा कराया था तथा साल के अंत दिसम्बर तक मकान पूरा कर दिया जाना था और शेष राशि ली जानी थी। लेकिन बिल्डर्स द्वारा न तो मकान बनवाया गया और न ही अग्रिम ली गई राशि को वापस किया गया इससे परिवादी परेशान होकर फोरम में परिवाद दायर किया।

फोरम की बेंच ने अपने फैसले में कहा कि केबी बिल्डर्स ढिमरापुर रोड जगतपपुर द्वारा सेवा में कमी किया है। इसलिए एक माह के अंदर अग्रिम ली गई राशि 6 लाख रूपये के साथ मानसिक क्षतिपूर्ति के तौर पर 50 हजार रूपये एक माह के अंदर भुगतान करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *