Wednesday, July 18, 2018
Home > Slider > ट्वीटर में भूपेश बघेल ने पूछे आरएसएस प्रमुख से 5 सवाल

ट्वीटर में भूपेश बघेल ने पूछे आरएसएस प्रमुख से 5 सवाल

Vigyapan
Vigyapan

 

रायपुर मुनादी।।

आने वाले विधानसभा चुनाव की गर्माहट छत्तीसगढ़ की राजनैतिक फ़िज़ाओं में महसूस की जाने लगी है। अपने 3 दिवसीय प्रवास में राजधानी रायपुर पहुंचे आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पर छत्तीसगढ़ कांग्रेस के अध्यक्ष भूपेश बघेल ने अपने ट्विटर अकाउंट से हमला कर दिया है।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से हुए एक के बाद एक

ट्वीट्स में मोहन भागवत से एक के बाद एक, लगातार 5 सवाल पूछे गए हैं।

 

 

पहला सवाल

 

राज्य में सैकड़ों गायों की नृशंस हत्या कर दी गयी. गौ सेवा के लिए मिलने वाली सरकारी अनुदान की राशि भी भाजपा सरकार की कमीशनखोरी की भेंट चढ़ चुका है. क्या संघ प्रमुख गौ हत्या पर कुछ बोलेंगे? क्या गौ सेवा के नाम पर मची लूट पर कुछ बोलेंगे??

 

 

  दूसरा सवाल

 

@drramansingh जी के नेतृत्व में चल रही सरकार ने पिछले वित्तीय वर्ष से खुद शराब बेचना शुरू किया है. ऐसे में जानने की इच्छा होती है कि शराब पर संघ की क्या नीति है? क्या शराब बेचना भारतीय संस्कृति के खिलाफ नहीं है??

 

संघ प्रमुख मोहन भागवत से तीसरा सवाल

प्रदेश में 27 हजार महिलाएं और युवतियां गायब हैं. वैसे संघ के ढांचे में महिलाओं के लिए कोई स्थान नहीं है. तो क्या इसलिए संघ पोषित @BJP4CGState सरकार में महिलायें असुरक्षित हैं? महिलाओं की सुरक्षा को लेकर आपके क्या विचार हैं?

 

 

 

संघ प्रमुख मोहन भागवत से चौथा सवाल

 

नक्सलवाद से निपटने के नाम पर बस्तर में आदिवासियों पर अत्याचार बढ़ा है. आदिवासी दोनों ओर से पिस रहे हैं. न महिलाएं सुरक्षित हैं और न बच्चे. जंगल के इलाके में संघ के कई संगठन आदिवासियों के बीच काम करते हैं, लेकिन वे इस अत्याचार पर चुप क्यों हैं?

 

 

संघ प्रमुख मोहन भागवत से पांचवां सवाल

 

@drramansingh समेत सभी मंत्रियों पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप हैं. #BJP के 14 साल के कार्यकाल में हुए भ्रष्टाचार की खुली स्वीकारोक्ति है और आश्चर्य है कि संघ इस पर भी चुप्पी साधे बैठा रहता है. क्या संघ की भ्रष्टाचार का सबसे बड़ा पोषक हो गया है?

 

गौरतलब है कि संघ प्रमुख मोहन भागवत के रायपुर पहुंचने पर छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के सुप्रीमो अजीत जोगी ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर मोहन भागवत से सवाल पूछे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *