Wednesday, September 26, 2018
Home > Slider > छग का एक जेल ऐसा भी …….!

छग का एक जेल ऐसा भी …….!

विकास की मुनादी ।।

जेल के अंदर बन्द विचाराधीन कैदियों को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने और उन्हें सामाजिकता का पाठ पढ़ाने काफी लंबे समय से प्रयासरत कटघोरा उपजेल   में  नशा मुक्ति सह पुनर्वास केंद्र की स्थापना की गयी है।

 

कोरवा पूलिस अभधीक्षक मयंक श्रीवास्तव द्वारा केंद्र का शुभारंभ किया गया। बताया जाता है कि नशामुक्ति सह पुनर्वास केंद्र की स्थापना के बाद कटघोरा उपजेल छग का पहला जेल बन गया है जहां नशे की गिरफ्त में बंधे कैदियों को नशा से दूर रहने के लिए योगा ,काउंसलिग और दवाईयों के जरिये उन्हें नशे से मुक्ति दिलाकर आर्थिक उन्नत्ति का मार्ग प्रशस्त किया जाएगा ।

 

पूलिस अधीक्षक मयंक श्रीवास्तव का मानना है कि नशा अधिकांश अपराधों का सबसे अहम कारण होता है और अगर हम नशे पर अंकुश लगाने में कामयाब हो गए तो अपराध वही पस्त हो जाएगा ।बगैर नशा स्वस्थ और अपराधमुक्त समाज की कल्पना बेमानी है ।

उद्घाटन के मौके पर कटघोरा एसडीओपी संदीप मित्तल,योग प्रशिक्षक संतोष यादव,वरिष्ठ पत्रकार कमलेश यादव,सहायक जेल अधीक्षक मुकेश कुशवाहा एवम कटघोरा उपजेल के समस्त स्टाफ मौजूद थे ।

इस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *