Thursday, January 18, 2018
Home > Slider > व्हाट्सप्प को नोटिस देकर पूछा, व्हाटस अप ? ये क्या हो रहा है

व्हाट्सप्प को नोटिस देकर पूछा, व्हाटस अप ? ये क्या हो रहा है

 

सेंट्रल डेस्क मुनादी

व्हाट्सएप को मंगलवार को एक वकील ने नोटिस देकर कम्पनी को 15 दिनों के अंदर-अंदर मिडिल फिंगर इमोजी को हटाने की धमकी दी गई है। कहा गया है की मिडल फिंगर अश्लीलता की और इंगित करता है इसलिए इसे तत्काल हटाई जाय.

नई दिल्ली के वकील गुरुमीत सिंह ने यह लीगल नोटिस फेसबुक के मालिकाने हक़ वाली सोशल साइट व्हाट्सप्प को भेजा है. इसमें कहा गया है कि किसी को भी मिडिल फिंगर यानी मध्य उंगली दिखाना केवल अवैध ही नहीं है बल्कि इसे एक अश्लील इशारा भी कहा जाता है और भारत में इसे अपराध के तौर पर देखा जाता है। इससे सामने वाले व्यक्ति का स्वभाव आक्रामक हो जाता है जिससे विवाद हो सकता है।

इंडियन पैनल कोड सैक्शन्स 354 और 509 के तहत महिलाओं के लिए इस तरह के इशारे को ओफ्फेंस माना जाता है। इसके अलावा किसी भी व्यक्ति द्वारा भारत में इस तरह के इशारे का उपयोग करना अवैध है। आगे नोटिस में कहा गया है कि क्रिमिनल जस्टिस (पब्लिक ऑर्डर) एक्ट, 1994 के सैक्शन 6 के मुताबिक आयरलैंड में मध्य उंगली को दिखाना एक अपराध माना जाता है।
एप में मिडिल फिंगर इमोजी की पेशकश कर वाट्सएप इंक सीधे आक्रामक, अशिष्ट, अश्लील इशारे से लोगों का अपमान कर रहा है। इसी लिए इस लीगल नोटिस के जरिए वाट्सएप से अनुरोध किया गया है कि वह मिडिल फिंगर इमोजी, करैक्टर व फोटो को इस लीगल नोटिस के दायर होने के 15 दिनों के अंदर-अंदर हटा के लिए कहा है .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *