Monday, March 25, 2019
Home > Top News > जशपुर राजघराने की बहुरानी के सियासत का नया ताना-बाना , अब जनजातीय समाज को एकसूत्र में बांधने की कोशिश ….

जशपुर राजघराने की बहुरानी के सियासत का नया ताना-बाना , अब जनजातीय समाज को एकसूत्र में बांधने की कोशिश ….

 

जशपुर से सत्येंद्र पाठक की मुनादी ।।

 

 

 

जशपुर जिले के जनजातीय समुदाय को एक सूत्र में बांधने की दिशा में जशपुर नगरपालिका उपाध्यक्ष प्रियंवदा सिंह जूदेव के प्रयास से जशपुर में स्थापित किये जा रहे जनजातीय संग्रहालय को लेकर श्रीमती जूदेव ने प्राम्भिक शुरुआत कर दी है। इसके लिए श्रीमती जूदेव आज घोलेंगे के महिला जागृति मण्डल के सदस्यों के घर पहुची जो ऊनी धागों के जरिये सुंदर और बेशकीमती शाल बनाने के काम मे कई वर्षों से जुटा हुए है। उन्होंने समूह के सदस्यों से मुलाकात कर उनके इस घरेलू उद्योग के बारे में बारीकी से कई जानकारियां ली और यह जानने की कोशिश की कि आखिर इस काम से उन्हें कितना मुनाफा होता है और इस उद्योग को आगे बढाने के लिए और क्या किया जा सकता है ।
प्रियंवदा ने मुनादी से चर्चा के दौरान बताया कि जिले के जनजातीय समुदाय की संस्कृति और इनसे जुड़ी व्यवसायिक कलाओं के संग्रह के लिए जशपुर नगर में जनजातीय संग्रहालय समुदाय को एक सूत्र में मजबूती से पिरोने का सबसे बड़ा जरिया साबित होगा । इस संग्राहलय में जनजातीय समुदाय की कला संस्कृति और व्यवसायिक खूबियों का संग्रह होगा । इसके माध्यम से जिले की संस्कृति ,कला ओर जातीय व्यवसाय के बारे में लोगो को अहम जानकारियां मिल पाएगी । उन्होंने बताया कि नगरपालिका में संग्रहालय का प्रस्ताव तो पास हो ही गया है साथ ही साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह भी उनके इस प्रस्ताव की सराहना कर चूके हैं । कुछ समय पहले संग्रहालय को लेकर मख्यमंत्री से उनकी चर्चा भी हो चुकी है और मुख्यमंत्री ने संग्रहालय स्थापना को जनजातीय समुदाय के लिए बेहतर कदम बताया था।
उन्होंने आगे बताया कि कला संस्कृति और जातीय व्यवसाय को जानने और समझने के लिए कला ,संस्कृति और व्यवसाय के जानकारों से शतत सम्पर्क कर यहां की कई अहम विशेषताओं को जानने की कोशिश की जा रही है ताकि संग्रहालय में ज्यादा से ज्यादा विशेषताओं का चित्रण किया जा सके ।बहुरानी ने कहा कि कला ,ओर पारम्परिक व्यवसाय से जुड़े जनजातीय समुदाय के व्यवसाय को विस्तार देने की भी कोशिश की जाएगी ।

हम आपको बता दें कि जशपुर में जनजातीय संग्रहालय स्थापना के सम्बंध में प्रियंवदा इससे पहले केंद्रीय संस्कृति मंत्री महेश शर्मा से भी मिल चुकी है और केंद्रीय मंत्री ने इस कार्य मे केंद्र के द्वारा भी भी सहयोग किये जाने का भरोसा दिया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *