Friday, November 16, 2018
Home > Slider > मुनादी ब्रेकिंग- शहर के प्रतिष्ठित फर्नीचर व्यवसायी ने 12 वर्षीय मासूम छात्रा के साथ की दुराचार की कोशिश अब पहुंचे हवालात …

मुनादी ब्रेकिंग- शहर के प्रतिष्ठित फर्नीचर व्यवसायी ने 12 वर्षीय मासूम छात्रा के साथ की दुराचार की कोशिश अब पहुंचे हवालात …

वहशी दरिंदे को पुलिस ने किया गिरफ्तार

कोरिया से अनूप बड़ेरिया की मुनादी

शहर के प्रतिष्ठित लखपति फर्नीचर व्यवसायी मगर हवस की आग में बने इस शैतान अपनी दुकान के सामने रहने वाली मासूम 12 वर्षीय मासूम के साथ दुराचार करने की कोशिश की। किसी तरह बच कर भाग निकली छात्रा ने इसकी जानकारी अपनी अपनी मां और बहन को दी। जिसके बाद उन्होंने पुलिस में मामला दर्ज कराया। इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार डबरी पारा स्थित शर्मा फर्नीचर हाउस शोरूम के मालिक अशोक शर्मा ने उक्त कृत्य को अंजाम दिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आज दोपहर जब वह छात्रा अपने घर के सामने खड़ी थी। उसी वक्त हवस की आग में अंधे हो चुके फर्नीचर शोरूम के मालिक अशोक शर्मा ने उसे अपने पास बुलाया और बहला-फुसलाकर घर ले गया। जहां उसने छात्रा से बात करते हुए उसके शरीर को छूने लगा तथा बच्ची की छाती को उसने बुरी तरीके से मसल दिया। इस घटना स्तब्ध छात्रा घबरा कर किसी तरह वहां से भागते हुए अपने घर पहुंची और उसने उसकी जानकारी अपनी मां और बहन को दी। जिसके बाद छात्रा के परिजनों ने सिटी कोतवाली में इसकी शिकायत दर्ज कराई। सूचना मिलने के बाद पुलिस ने उक्त वहशी दरिंदे व्यापारी को भादवि की धारा 354, पॉक्सो एक्ट एवं एट्रोसिटी एक्ट अधिनियम के अंतर्गत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। बताया जाता है कि मार्ग दर्शन स्कूल के कक्षा 7 पढ़ने वाली उक्त मासूम छात्रा शैतान अशोक शर्मा को पिता तुल्य मानती थी। लेकिन उसने और उसके परिजनों ने सपने में भी नहीं सोचा था कि जिसे वह अंकल कहकर इतना आदर देते हैं ,वह इतना बड़ा शैतान निकलेगा। सबसे बड़ी हैरानी की बात यह है कि दरिंदे अशोक शर्मा के इस पीड़िता से ज्यादा उम्र के तो बड़े-बड़े बच्चे हैं। इस मामले का दूसरा पहलू यह भी है कि उक्त मासूम पीड़िता के पिता नहीं है वह अपनी बुआ के यहां रहकर पढ़ाई करती है । सामाजिक संगठन सत्यमेव जयते ने दुष्ट फर्नीचर व्यवसायी के चेहरे पर कालिख पोत कर शहर में घुमाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *