Monday, December 10, 2018
Home > Slider > जब एकलव्य आवासीय विद्यालय के शिक्षक पहुंचे बगिया और सांसद विष्णुदेव साय से मिलने पहुंचे ………… रखा मांगे …….

जब एकलव्य आवासीय विद्यालय के शिक्षक पहुंचे बगिया और सांसद विष्णुदेव साय से मिलने पहुंचे ………… रखा मांगे …….

 

सन्न मुनादी।

एकलव्य विद्यालय सन्ना के समस्त कर्मचारियों के एक दिवसीय सांकेतिक हड़ताल की वजह से विद्यालय में पढ़ाई ठप्प रहा। छत्तीसगढ़ एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय कर्मचारी कल्याण संघ के प्रांतीय आह्वान पर सभी शिक्षक व कर्मचारी हड़ताल पर रहे।विद्यालय पूर्णतःआवासीय होने के कारण विद्यालय में पढ़ाई नही हुई वहीं जिले के सबसे बड़े छात्रावास में भी व्यवस्था बाधित रही।

 

प्रांतीय आह्वान के तहत हड़ताल पूर्व 17-18 सितंबर 2018 दो दिनों तक सभी कर्मचारी अमले ने अपनी 5 सूत्रीय मांगों को लेकर काली पट्टी लगाकर काम किया।और मांगें पूरी न होने पर 26 सितंबर से वे अनिश्चित कालीन हड़ताल पर चले जायेंगे। कर्मचारियों का कहना है कि लंबे समय से वे अपनी मांगों को विभागीय अधिकारियों के माध्यम से सरकार के सामने रखते आ रहे हैं लेकिन सरकार कर्मचारी हित में कोई कदम नहीं उठा रही है। इसलिए विवश होकर संघ को आंदोलन की रूपरेखा तय करनी पड़ी।

पांच सूत्रीय मांगें ये हैं- (1)एकलव्य विद्यालय के अमले को 01.01.2016 से 7वें वेतनमान का लाभ दिया जावे। (2)एकलव्य विद्यालयीन अमले को केन्द्रीय /नवोदय विद्यालय के TGT तथा PGT के ग्रेड पे क्रमशः 4600 व 4800 के अनुरूप वेतन निर्धारण किया जावे। (3) एकलव्य विद्यालय भर्ती अधिनियम 2007 रायपुर दिनाँक-13.08.2007 के अनुरूप 05 वर्ष की सेवा अवधि पर पदोन्नति व स्थानांतरण का लाभ दिया जावे। (4) राज्य/केंद्र की भांति एकलव्य के कर्मचारियों को ग्रेज्युटी, अनुकंपा नियुक्ति तथा अनुग्रह राशि का लाभ दिया जावे।(5) समस्त एकलव्य विद्यालयों में शिक्षक/ कर्मचारी आवास का निर्माण शीघ्र किया जावे।

एकलव्य आ.आ.वि.कर्मचारी कल्याण संघ के जिलाध्यक्ष कुलदीप तिग्गा ने कहा कि सुदूर अंचल में रहते हम सभी विद्यालय को नई ऊंचाइयों तक ले जाने का प्रयास कर रहे है जिसका परिणाम विगत तीन वर्षों का हमारा परीक्षा परिणाम बता रहा है।साथ ही खेलकूद व अन्य गतिविधियों में हमारे बच्चे नाम कमा रहे हैं। मेडिकल , इंजीनियरिंग व प्रतियोगी परीक्षाओ में चयनित हो रहे हैं। प्रदेश के अन्य शिक्षक/कर्मचारियों की भांति हमे भी सातवें वेतनमान सहित अन्य मांगों का निराकरण करना चाहिए।

प्रदेश के सभी एकलव्य विद्यालयों के कर्मचारी द्वारा अपनी एक दिवसीय हड़ताल के माध्यम से विरोध जताया जा रहा है। प्रांतीय पदाधिकारियों के द्वारा आज मुख्यमंत्री से मिलकर अपनी मांगों को रखा गया ।इसी कड़ी में एकलव्य सन्ना का प्रतिनिधि मंडल ने केंद्रीय मंत्री विष्णुदेव साय जी से उनके निवास बगिया में जा कर अपनी समस्याओं पर विस्तार से बात रखा और मंत्री महोदय ने तत्काल अपने निज सचिव को संबंधित विभाग व मंत्री को पत्र लिखने को निर्देशित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *