Tuesday, November 20, 2018
Home > Slider > यहाँ 18 सालों से विकास अटका हुआ है , कहीं मौत बनकर न गिर पड़े इसलिए अब ग्रामीणों ने किया ये काम …जानिए विकासगढी का एक और सच

यहाँ 18 सालों से विकास अटका हुआ है , कहीं मौत बनकर न गिर पड़े इसलिए अब ग्रामीणों ने किया ये काम …जानिए विकासगढी का एक और सच

 

 

 

जशपुर मुनादी ।।

निर्माणाधीन पूल

 

 

जशपुर जिले के कांसाबेल का एक पुलिया बीते 18 सालों से अपनी पूर्णता की बाट जोह रहा है। कहते है 2001 में शुरू हुआ इस पुलिया का निर्माण आज तक अधूरा है और अब यह लोगो के लिए जानलेवा साबित हो रहा है। कांसाबेल से बागबहार और कोतबा को जोड़ने वाले इस पुलिया का निर्माण कांसाबेल के पेमला में हो रहा है । कहते हैं अजीत जोगी के मुख्यमंत्रीत्व काल मे 2001 में इस पुलिया को स्वीकृति मिली थी और उसी वर्ष से यहां काम भी शुरू हो गया लेकिन अचानक काम को रोक दिया गया और 8 सालों तक यहां का काम रुका रहा ।इस दरम्यान पूल के नीचे बनाये गए दो पीलर भी धराशाही हो गए । 2008 में स्थानीय लोगों के द्वारा जनदर्शन ,ग्राम सुराज और मुख्यमंत्री जनदर्शन में आवेदन दिया गया तब जाकर दुबारा यहां काम शुरू हुआ और पूल लगभग आने जाने के लायक ले देकर बनकर तैयार हो गया ।अब दुबारा बात यह आ रही है कि इतने बड़े पूल के क्षतिग्रस्त दोनो पिलरों को अब तक ठीक नही किया गया है और न ही सेकेंड कोड की ढलाई ही हुई है ।इसके चलते यहां कभी भी कोई बड़ा खतरा होने के अंदेशे के चलते ग्रामीण फिर से सरकार से गुहार लगे रहे है ।इलाके के सामाजिक कार्यकर्ता मोती बंजारा ने मुख्यमंत्री सहित कई जिम्मेदार लोगों को ट्वीट कर इस समस्या से अवगत कराया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *