Thursday, September 20, 2018
Home > Slider > वृद्ध दंपत्ति हुए घोखाधड़ी के शिकार ”  प्राचार्य पति ने छल पूर्वक करवा लिया ज़मीन .अपने नाम

वृद्ध दंपत्ति हुए घोखाधड़ी के शिकार ”  प्राचार्य पति ने छल पूर्वक करवा लिया ज़मीन .अपने नाम

                        
पीड़ित बुज़ुर्ग दंपत्ति ने धरमजयगढ़ एसडीएम से की शिकायत..                       

धरमजयगढ़ मुनादी।
वृद्ध निःसन्तान आदिबासी पति पत्नी के साथ तब तक चिकनी चुपड़ी बाते करता रहा जब तक उसने उनकी करोड़ो की जमीन को अपने नाम नही कराया जब धोखे से पीड़ित के जमीन को अपने नाम करा लिया तब वृद्ध दम्पत्ति को दुत्कार दिया।

यह मामला धर्मजयगढ़ ब्लॉक के कापू में पूर्व पदस्थ प्रचार्य के पति की करतूत सामने आई है। मामला इस प्रकार है कि
श्रीमती बारला मैडम के बोरोजगार पति रोशन बारला जो कि खुद को आदिवासी कहता है,, जबकि लोगों का कहना है की अपनी पत्नी का सरनेम लिख कर फर्जी तरीके से बारला बना है.वहीँ गांव के लोग उसे  गाड़ा चौहान बताते है,सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार कापू क्षेत्र के गोढ़ी निवासी  एक वृद्ध दंपति धोबी राम राठिया,और उसकी वृद्धा पत्नी मानकुंवर राठिया जो  कि निः संतान है,, को चिकनी चुपड़ी बातें कहकर भावनात्मक रूप से अपने मक्कारी के जाल में फंसाकर उनके जमीन जायदाद को हथियाने के लिए अपना माता पिता बनाकर जीवन्त पर्यन्त सेवा करने का झांसा दिया.लगभग 1वर्ष अपने पास रखा इसी बीच  पीड़ित वृद्ध धोबी राठिया से उसके सभी 7 एकड़ जमीन को  धोखाधड़ी कर अपने नाम रजिस्ट्री करा लिया.स्वार्थी  रोशन बारला ने छल पूर्वक जमीन हड़प लेने के बाद वृद्ध धोबी राठिया को घर से निकाल कर भगा दिया.विडम्बना देखिए की वृद्ध दंपत्ति अब अपने ही करोड़ो की जमीन से बेदखल हो कर भूमि हीन बेघर बार हो दर दर की ठोकरें  खाने मजबूर हो गया है. गांव वालों ने बताया की धोखेबाज रोशन बारला वृद्ध को ज़बरदस्ती शराब भी पिलाता रहा ताकि आसानी से ज़मीन के कागज़ात में उनका अंगूठा लगवा सके. इस सम्बन्ध में पीड़ित परिवार ने  पूर्व  कलेक्टर को भी आवेदन दिया था ,किन्तु  उन्हें आज पर्यन्त न्याय नहीं मिल पाया. ग्राम सुराज में भी शिकायत किया गया है लेकिन  वहाँ भी न्याय नही मिला.विदित हो की एक तरफ सरकार जनदर्शन ,ग्राम सुराज  विकाश यात्रा करती है, ताकि आम लोगों की फरियाद सुनी जा सके.लोगो को न्याय मिल सके , किन्तु जमीनी हकीकत सुन कर आप भी दंग रह जाएंगे,प्रचार्य पति जमीन के लालच में  कितना नीचे गिर सकता है,  जमीन हथियाने के लिए वृद्ध दंपत्ति को पहले अपना माता पिता बनाया जीवन भर उनकी सेवा करने की कसमे खाई और आज उन्हें कहीं का नहीं छोड़ा. बहरहाल  पीड़ित प्रताड़ित वृद्ध दंपत्ति ने वर्तमान में पदस्थ धरमजयगढ़  एसडीएम श्री चौबे   को अपनी व्यथा के बारे में शिकायत पत्र देकर न्याय दिलाने की गुहार लगाई  है. अब देखना है की वृद्धावस्था में आपने हक की लडाई में उनकी जीत होगी, या फिर थक हार कर मुफलिसी में यूँ ही मरने को मजबूर होगा।
वर्सन
दौरे में गया था तब उस वृद्ध ने मुझे बताया था मैंने उसे दस्तावेज लेकर बुलाया था ताकि प्रकरण दर्ज किया जा सके लेकिन वो लोग आए ही नही।
नंद कुमार चौबे
एस डी एम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *