Wednesday, July 18, 2018
Home > Slider > जब बिटिया सरस्वती को बहूरानी ने गले लगा लिया ,खुद खड़ी हो गयी और उसे अपनी कुर्सी पर बिठाया ..जानिए और क्या हुआ ?

जब बिटिया सरस्वती को बहूरानी ने गले लगा लिया ,खुद खड़ी हो गयी और उसे अपनी कुर्सी पर बिठाया ..जानिए और क्या हुआ ?

 

 

जशपुर मुनादी ।।

 

 

देश के सबसे बड़े मंच राजधानी दिल्ली में अपनी सुरीली आवाज से सबको मंत्रमुग्ध करने वाली जशपुर की दिव्यांग बेटी सरस्वती जब उज्ज्वल भविष्य का आशीर्वाद और शुभकामना लेने जशपुर रियासत की बड़ी बहू नगरपालिका उपाध्यक्ष प्रियंवदा जूदेव के पास आयी तो श्रीमती जूदेव ने आशीर्वाद और शुभकामना देने से पहले ऐसा सम्मान दिया जिसकी आप उम्मीद नही कर सकते।
राजधानी दिल्ली में मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा आयोजित बालश्री सम्मान के लिए चयनित दिव्यांग बेटी सरस्वती जब गुरुवार को अपने परिजनों के साथ बहुरानी जूदेव से मिलने उनके कार्यालय पहुची तो श्रीमती जूदेव ने न केवल इस बिटिया को गले लगाया और उसके सम्मान में उन्होंने अपनी कुर्सी छोड़ कर खड़ी हो गईं और उस कुर्सी पर सरस्वती को बैठा दिया । रियासत की बहूरानी द्वारा बिटिया को दिए जा रहे इतने बड़े सम्मान को देखकर सरस्वती के परिजनों के आंखों में भावुकता तैरने लगी । बात यही खत्म नही हुई अपनी कुर्सी पर बिठाने के बाद बहुरानी ने उसे अपनी कार में भी बैठाया और उसे बैठाकर कुछ दूर तक शहर भ्रमण करती रही । शहर भ्रमण के दौरान उन्होंने सरस्वती की पसंदीदा मिठाई पूछा और शहर से ही उसके पसंद की मिठाई खरीदी और सएसवती को मिठाई खिलाया ।
बहुरानी जूदेव ने कहा कि सरस्वती जैसी बेटिया हमारे जिले का नाम अगर पूरे देश मे रौशन कर रही हैं तो यह न केवल जशपुर बल्कि पूरे प्रदेश के लिए शौभाग्य की बात है ऐसी बेटियों के लिए कुर्सी केवल काफी नही है इन्हें दिलो मे जगह देने की जरूरत है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *